डायन का भयानक कहर Part-1 – Bhoot Ki Kahani

आपने कभी डायन देखा है अगर देखा होगा तो आपको यह पता होगा की वह कितनी खतरनाक होती है। आप Bhoot Ki Kahani पढ़ते रहे। आपको इस Ghost Story In Hindi में पता चलेगा कि किस तरह डायन के हाथो से मैंने अपना पूरा परिवार को बचाया।

Horror Of The Witch Part-1 - Bhoot Ki Kahani

यह कहानी तब शूरू होती है जब मै 18 वर्ष का था और मेरा नाम कमलेश है। मै और मेरा पूरा परिवार गाँव से घर की तरफ लौट रहे थे तब हमलोग बस में थे और उस बस में हमारे साथ बहुत सारे लोग थे और उस वक़्त रात के 1 बज रहे थे। बस में सभी लोग सो रहे थे सिवाय कुछ लोगो के जिसमे मै भी एक शामिल था। बस अपने पूरे रफ्तार से चल रही थी क्योंकि वह जगह सुनसान था तभी एक ऐसी जगह से बस पार हुई वह जगह बहुत ही सुनसान थी। वैसे तो बस के कुछ ही लाइट जल रहे थे पर उस जगह के पास बस पहुचने पर बस के ड्राइवर ने सारी लाइट बैंड कर दी और बस को ऐसे चलाने लगा जैसे बस से आवाज ही नही आ रही हो।

मुझे बहुत ही अजीब लगा की यह सब क्या हो रहा है तभी मैने बस की खिड़की से देखा कि कुछ औरतें आग जलाकर आग के पास नाच रहे थे। यह सब देख मैं समझ नही पा रहा था कि यह सब क्या हो रहा है। मैने वहा पर देखा कि पांच औरतें थी जो पागलो की तरह नाँच रही थी जिसमे एक बूढ़ी औरत थी। मैने उन पांच औरते का साफ-साफ चेहर देखा था। कुछ देर में हमनें वह जगह पार करली और बस ड्राइवर ने बस की लाइट जला दी और बस पूरी रफ्तार से चलने लगी। सुबह तक हमारा स्टॉप आ गया और हम सब उतर गए।

घर पहुचने पर मै अपने एक दोस्त से मिला और उसको उन पांच औरतो की नाचने वाली घटना सुनाया। मेरे दोस्त ने कहा कि शायद वह औरते डायन हो सकते है और वे सब अपनी शक्तियां बढ़ाने और अपनी उम्र बढ़ाने के लिए नाच रहे थे। अगर उनके इस रस्म में कोई भी रुकावट डालता है तो वो उसे उसी वक्त मार डालते है।

इन सबके बारे में मैने इंटरनेट पर काफी रिसर्च भीकिया तो पता चला कि जब कोई भी डायन अपनी पूरी ताकत दिखती है तब उसके दोनों पैर उल्टे हो जाते है और वह इतने ताक़तवर हो जाते है कि उनके सामने कोई भी साधारण इंसान उनका कुछ नही बिगाड़ सकता पर उस डायन की कमजोरी उसकी सिर पर बालो से बनी चोटी में होती है। अगर कोई उस चोटी को काट दे तो डायन बहुत ही कमजोर हो जाती है और मर भी जाती है लेकिन उसकी चोटी को काट पाना इतना आसान भी नही है।

कुछ दिनों ऐसे ही बीत गए और एक रात को मै सो रहा था तभी कुछ कुत्ते बहुत ही तेजी से भौंक रहे थे तब रात के तीन बज रहे थें औऱ अचानक से सभी कुत्तो की भौंकने की आवाज बंद हो गईं। फिर मै सो गया और जब मैं सुबह सोकर उठा तब हमारे मोहल्ले में बस यही चर्चा थी कि पांच कुत्ते एक ही जगह पर मरे हुए पाए गए। मुझे इस बात से बहुत ताज्जुब हुआ।

अब आगे की कहानी मैं आपको अगले भाग में बतायूँगा। आपको यह Bhoot Ki Kahani पसंद आए तो अपने दोस्तों के साथ share जरूर करे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
error: Content is protected !!