Top 5 Japanese Urban Legends In Hindi Part-1

0

जापान में इतनी डरावनी शहरी Urban legends हैं। देश में भूत के कहानियों का समृद्ध इतिहास है।इस सूची में जापान से कई भयानक कहानियां शामिल हैं जिनमें Kuchisake Onna,Aka Manto,Teke Teke,Hanako San,Red House जैसी कहानियां बहुत ही प्रचलित है।लेकिन जापान में सिर्फ डरावनी लोककथा नहीं है। बहुत सारे आधुनिक जापानी शहरी किंवदंतियों हैं जो बहुत डरावनी हैं।आप इन डरावनी शहरी किंवदंतियों का आनंद लें, और बहुत ज्यादा डरने की कोशिश न करें।

jaapaan men etni daraavni shahri Urban legends hain.Desh men bhut ke kahaaniyon kaa samriaddh etihaas hai.Ies suchi men jaapaan se kayi bhayaanak kahaaniyaan shaamil hain jinmen Kuchisake Onna,Aka Manto,Teke Teke,Hanako San,Red House jaisi kahaaniyaan bahut hi prachalit hai.lekin jaapaan men sirph daraavni lokakthaa nahin hai। bahut saare aadhunik jaapaani shahri kinvadantiyon hain jo bahut daraavni hain.Aap en daraavni shahri kinvadantiyon kaa aanand len, aur bahut jyaadaa darne ki koshish na karen.

Top 5 Japanese Urban Legends In Hindi Part-1
Top 5 Japanese Urban Legends In Hindi Part-1

1. कुचीसाके ओना (Kuchisake Onna)

कुचीसाके ओना जापान की गलियों में भटकने वाली  सर्जिकल मास्क पहनी हुई आत्मा है। जो बच्चों को अपना शिकार बनाती है।यह जिसे भी अपना शिकार बनाती है उससे पूछती है कि क्या मैं सुंदर हूं अगर कोई कहता है कि हां तुम सुंदर हो तो वह अपना सर्जिकल मास्क हटाते हुए दुबारा से पूछती है क्या मैं सुंदर हूं, उसके भयानक शक्ल (उसका मुंह बीच से कटी रहती थी)को देखकर अगर कोई कह दे कि नहीं तुम सुंदर नहीं हो तो वह उसको कैची से वही मार डालती है। सर्जिकल मास उतारने के बाद अगर कोई कह दे कि हां तुम सुंदर हो तब भी वह उस बच्चे के मुंह को कैंची से काट देती है, जिससे उस बच्चे की की वही मौत हो जाती है। जापान में 1970 के दशक में कुचीसाके ओना का दहशत इतना फैला हुआ था कि लोग अपने बच्चे को स्कूल तक नहीं भेजते थे।कुचीसाके ओना के बारे में रोज अखबार में कुछ ना कुछ घटनाएं छपती रहती थी, इसीलिए जापान सरकार ने कड़ी पुलिस फोर्स के साथ बच्चों को स्कूल ले जाने और स्कूल से घर पहुंचाने के लिए कड़ी व्यवस्था रहती थी।

कुचीसाके ओना की जो सबसे प्रसिद्ध कहानी है वह यान पीरियड की है जो आज से 800 से 1200 साल पहले की है, उस बात एक बहुत ही खूबसूरत लड़की हुआ करती थी जिसे अपनी सुंदरता पर बहुत ही घमंड था।कुचीसाके ओना अपने पति के साथ रहती थी परंतु उसी वक्त एक युद्ध हुआ जिससे उसके पति को युद्ध में जाना पड़ा, जब उसका पति घर लौटा तो उसने अपनी पत्नी को गैर मर्द के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देखा।जिससे वह बहुत ही क्रोधित हो गया और अपने तलवार से अपनी पत्नी के मुंह को काट दिया और वहां से यह बोल कर निकला कि अब तुम्हें कौन सुंदर कहेगा।  कुछ समय बाद जब उसने अपने चेहरे को देखा तो वह अपना चेहरा देखकर बहुत ज्यादा ही डर गई और उसे अपना चेहरा सहन नहीं हुआ और वह वहां पड़ी कैची से ही अपने आप को मार दिया।

लेकिन जापान के लोगों का आज भी मानना है कि कुचीसाके ओना जापान की गलियों में भटकती है और बच्चों को अपना शिकार बनाती है।

kuchisaake onaa jaapaan ki galiyon men bhatakne vaali  sarjikal maask pahni hui aatmaa hai. jo bachchon ko apnaa shikaar banaati hai।yah jise bhi apnaa shikaar banaati hai usse puchhti hai ki kyaa main sundar hun agar koi kahtaa hai ki haan tum sundar ho to vah apnaa sarjikal maask hataate hua dubaaraa se puchhti hai kyaa main sundar hun, uske bhayaanak shakl (uskaa munh bich se kati rahti thi)ko dekhakar agar koi kah de ki nahin tum sundar nahin ho to vah usko kaichi se vahi maar daalti hai. sarjikal maas utaarne ke baad agar koi kah de ki haan tum sundar ho tab bhi vah us bachche ke munh ko kainchi se kaat deti hai, jisse us bachche ki ki vahi maut ho jaati hai.jaapaan men 1970 ke dashak men kuchisaake onaa kaa dahashat etnaa phailaa huaa thaa ki log apne bachche ko skul tak nahin bhejte the.kuchisaake onaa ke baare men roj akhbaar men